पेपर बैग बनाने का व्यापार कैसे शुरू करें | How to Start Paper Bag Making Business

paper bag banane ka business

Paper Bag Making Business: जिस तरह से पर्यावरण में जहरीले तत्वों की मात्रा और प्रदूषण का स्तर बढ़ रहा है, पर्यावरण के अनुकूल उत्पाद समय की आवश्यकता बन गए हैं।

प्रदूषण पर लगाम लगाने के लिए भारत सरकार ने “सिंगल यूज़ प्लास्टिक” के उत्पादन और उपयोग पर पूरी तरीके से रोक लगा दी है, जिस कारण पेपर बैग बनाने के व्यवसाय का मार्ग प्रशस्त हुआ है। पिछले कुछ सालों से प्लास्टिक पर पाबंदी लगने के कारण पेपर बैग की मांग में काफी इज़ाफ़ा हुआ है, जिससे नए बिजनेस करने वालों के लिए मौका बढ़ा है। अगर रिपोर्ट का हवाला दें तो, भारत में पेपर बैग का बाजार 2021-2026 के बीच 6.5% CAGR की दर से बढ़ने की उम्मीद है।

अगर आप भी कम निवेश में एक मुनाफे वाला व्यवसाय को शुरू करने की सोच रहें है तो पेपर बैग का व्यवसाय आपके लिए काफी लाभदायक साबित हो सकता है।

पेपर बैग की सबसे बड़ी खासियत ये है की यह इको-फ्रेंडली है और पूरी तरीके से रीसायकल हो सकता है। प्लास्टिक की तरह इससे वातावरण को भी नुकसान नहीं पहुँचता। यह बैग देखने में काफी आकर्षक और मनमोहक होते है, और इनकी डिमांड भी मार्केट में बराबर रहती है।

आमतौर पर, इन बैगों का उपयोग शॉपिंग मॉल, गिफ्ट स्टोर, जेवेलरी स्टोर और कपड़ों की दुकान जैसी जगहों पर किया जाता है।

पेपर बैग व्यवसाय शुरू करने के लिए कितना निवेश करना होगा? (Paper Bag Business Investment)

पेपर बैग व्यवसाय के लिए जो पूंजी आप लगाने जा रहे हैं वह इस बात पर निर्भर करता है कि आप किस प्रकार के पेपर बैग का निर्माण करना चाहते हैं और व्यवसाय का पैमाना क्या है। अगर आपका मुख्य उद्देश्य दुकानों और विक्रेताओं के एक छोटे समूह को पेपर बैग बेचना है, तो आप इस उद्योग को घर से ही शुरू कर सकते हैं, जिसके लिए लगभग 2-3 लाख रुपये की आवश्यकता पड़ेगी।

हालांकि, अगर आपका ध्यान बड़े पैमाने पर व्यवसाय करने पर है जैसे उच्च गुणवत्ता वाले पेपर बैग का निर्माण करना जो लग्जरी शॉपिंग मॉल या फिर जेवेलरी शॉप में उपयोग किए जाते हैं तो आपको लगभग 10-15 लाख तक निवेश करने की ज़रूरत पड़ सकती है।

पेपर बैग बनाने के व्यवसाय का पंजीकरण (Registration for Paper Bag Making Business)

किसी भी व्यवसाय को शुरू करने का पहला चरण होता है, उसका पंजीकरण करना।

सबसे पहले आपको अपने व्यवसाय का रजिस्ट्रेशन करना होगा और स्थानीय नगरपालिका प्राधिकरण से व्यापार करने के लिए लाइसेंस प्राप्त करना होगा। इसके बाद आपको अपना उद्योग आधार पंजीकरण पूरा करना होगा। आप अपनी कंपनी को एक PRIVATE LTD कंपनी या व्यक्तिगत रूप (One Person Company) से पंजीकृत कर सकते हैं।

अन्य पढ़े: प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना: मुद्रा लोन कैसे मिलेगा?

अगर आपके पास निवेश के लिए उचित धनराशि उपलब्ध नहीं है तो आप एमएसएमई के अंतर्गत पंजीकरण करवा कर अपने बिज़नेस को शुरू कर सकते हैं। हालांकि, यह एक वैकल्पिक पंजीकरण है, लेकिन अगर आप इसके तहत अपने उद्योग का पंजीकरण करवाते हैं तो आपको ब्याज दर में छूट,योजना कर सब्सिडी और अन्य कई तरह के लाभ मिल सकते है।

इन सब बातों का ध्यान रखकर आप प्रोफेशनल तरीके से अपना बिजनेस शुरू कर सकते हैं।

व्यापार के लिए स्थान का चुनाव (Select Location for Manufacturing Unit)

अपने व्यवसाय के आकार के अनुसार उपयुक्त स्थान का चुनाव करना बहुत महत्वपूर्ण है। इसके अलावा, अगर आप किराये पर कोई जगह ले रहे हैं तो उसकी लागत आपके मुनाफे से अधिक नहीं होनी चाहिए। ट्रांसपोर्टेशन लागत को कम से कम रखने के लिए, बाजार के पास स्थान तय करने और वितरण चैनल को कम करने का प्रयास करें।

पेपर बैग बनाने का व्यवसाय शुरू करने के लिए एक अर्ध-शहरी क्षेत्र सबसे अच्छा विकल्प है – क्योंकि वहां पर जगह का किराया कम लगेगा और मजदूर भी आसानी से उपलब्ध हो जायेंगे। मशीन को स्थापित करने से लेकर अन्य सभी छोटे-बड़े उपकरणों और कच्चा माल रखने के लिए 450-500 वर्ग फीट स्थान की आवश्यकता होती है।

श्रमिक (Workers)

अगर आप छोटे पैमाने पर पेपर बैग व्यवसाय की शुरुआत करते हैं अधिक श्रमिकों की आवश्यकता नहीं होती है। आप मात्र 3 श्रमिकों के साथ एक छोटी इकाई को कुशलतापूर्वक चला सकते हैं – जिसमे एक मशीन ऑपरेटर और 2 मजदूर होंगे।

हालांकि, अगर आपके पास एक से ज्यादा मशीनें हैं तो आपको कम से कम 10 कर्मचारियों की जरूरत पड़ेगी।

पेपर बैग बनाने के लिए आवश्यक कच्चा माल (Raw Materials Required for Paper Bag Making)

आपके पेपर बैग की गुणवत्ता और लाभ, उसमें उपयोग में लाये जाने वाले कच्चे माल पर निर्भर है। अच्छी गुणवत्ता और बढ़िया बनावट वाले पेपर बैग आपके लाभ को बढ़ा सकते हैं और बाजार का ध्यान आपकी प्रोडक्ट की तरफ करेंगे।

पेपर बैग बनाने में उपयोग की जाने वाली सामग्रियों की जानकारी नीचे दी गयी है:

  • सफ़ेद और रंगीन पेपर रोल (80-120 GSM)
  • फ्लेक्सो कलर
  • पोलीमर स्टीरियो
  • प्रिंटिंग केमिकल
  • स्ट्रिंग और टैग
  • गोंद

आपको इन कच्चा माल को ओवरस्टॉक करने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि इससे अनावश्यक भंडारण लागत बढ़ सकती है। जितनी ज़रूरत हो उसी अनुसार इनका आर्डर दें।

पेपर बैग बनाने की मशीन की कीमत (Paper Bag Making Machine Price)

paper bag banane ki machine price

एक पूरी तरह से स्वचालित पेपर बैग बनाने की मशीन (Fully Automatic Paper Bag Making Machine) की कीमत लगभग 5 लाख रुपये से शुरू होती है। यह कीमत मशीन की उत्पादन क्षमता पर निर्भर करती है। एक पूरी तरह से स्वचालित मशीन 80-100 पीस/मिनट का उत्पादन कर सकती है।

पेपर बैग निर्माण के मशीन की जानकारी (Paper Bag Making Machine Information)

सबसे पहले, यह निर्धारित करें कि आपका व्यवसाय किस प्रकार के पेपर बैग के निर्माण पर केंद्रित है, और फिर उसके अनुसार मशीनरी का चयन करें।

इसके अलावा पेपर बैग बनाने की मशीन खरीदने से पहले उस मशीन में आपको यह कुछ बुनियादी सुविधाएं मिल रही है या नहीं, जाँच ले:

  • स्टीरियो डिजाइन रोलर
  • फ्लैट फॉर्मिंग डाई
  • मेन ड्राइव के लिए 3 HP की मोटर
  • डबल रंग/चार रंग फ्लेक्सो प्रिंटिंग यूनिट अटैचमेंट
  • बैग उत्पादन क्षमता: 80-100 बैग प्रति मिनट

कहां से खरीदे पेपर बैग मेकिंग मशीन (Place to Buy Paper Bag Manufacturing Machine)

पेपर बैग बनाने वाली मशीन के निर्माता पूरे भारत में कोयंबटूर, मुंबई, बैंगलोर और चेन्नई जैसे प्रमुख शहरों में उपलब्ध हैं, आप चाहे तो यहाँ से मशीन मंगवा सकते हैं। यदि, आप इन्हें ऑनलाइन खरीदना चाहते है तो वो भी किया जा सकता है। ये कुछ वेबसाइट है जिनका उपयोग आप कर ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं:

  • https://www.indiamart.com/
  • https://india.alibaba.com/index.html

पेपर बैग निर्माण प्रक्रिया (Paper Bag Making or Manufacturing process)

पेपर बैग बनाने का काम पूरी तरह से स्वचालित और आसान है। आपको सिर्फ एक ऑपरेटर की आवश्यकता होती है जो मशीन को चला सके। आम तौर पर, जब सभी चीजें मशीन में लोड हो जाती हैं तो आपको कोई काम नहीं करना पड़ता है, मशीन अपना काम ऑटोमेटिक तरीके से करती है। आपको बस कुछ मिनटों को इंतज़ार करना होता है और पेपर बैग बनकर आपके सामने होता है।

निर्माण प्रक्रिया:

  1. सही आकार के अनुसार कागज की कटिंग ऑटोमेटिक पेपर बैग मशीन द्वारा की जाती है।
  2. कागज के किनारे को गोंद की सहायता से मशीन द्वारा दबाया जाता है।
  3. उसके बाद प्रिंटर की सहायता से ब्रांड के नाम की छपाई की जाती है
  4. स्ट्रिंग के लिए कागज में छिद्रण किया जाता है
  5. स्ट्रिंग को छेद से जोड़ना भी मशीन द्वारा ऑटोमेटिक तरीके से किया जाता है

पेपर बैग बनाने के व्यवसाय से अनुमानित लाभ (Expected Profit from Paper Bag Making Business)

समय के साथ पेपर बैग का का उद्योग काफी फलफूल रहा है, जिस कारण इससे आमदनी भी अच्छी हो रही है। इसके दो प्रमुख कारण हैं – पहला, इसमें कम निवेश की आवश्यकता होती है और दूसरा, पेपर बैग व्यवसाय में उपयोग किया जाने वाला कच्चा माल काफी सस्ता होता है।

उदाहरण के लिए: एक ऑटोमेटिक पेपर बैग बनाने की मशीन प्रति मिनट में 80 बैग बनाने में सक्षम है। वर्तमान बाज़ार के रेट पर गौर करें तो आप प्रति बैग 10 पैसे का लाभ कमा सकते हैं। तो, आप बैग बनाने में निवेश करने वाले प्रत्येक मिनट के लिए 8 रुपये का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। अगर सब कुछ सही रहा और निर्माण कार्य सुचारु रूप से चला, तो आप महीने के 50 हज़ार से लेकर 70 हज़ार रूपए तक का मुनाफ़ा कमा सकते हैं।

हालांकि, ये लाभ आपके व्यवसाय के विभिन्न अन्य कारकों के आधार पर थोड़े अलग भी हो सकते हैं।

अन्य पढ़े: