Bhulekh UP 2023: यूपी भूलेख खतौनी की नकल ऑनलाइन कैसे निकाले

up bhulekh khatauni kaise nikale

आज के समय में जमीन की रजिस्ट्री करानी हो या फिर किसान क्रेडिट कार्ड का लाभ लेना हो, खसरा खतौनी का होना बेहद आवश्यक है। बिना खसरा खतौनी के कई प्रकार की सरकारी योजना में लाभ लेना मुश्किल हो जाता है। यह आपकी जमीन के ऐसे कागज़ात है जो आपको कई प्रकार की सरकारी योजनाओं का लाभ लेने में मदद करते हैं, इसके साथ ही यह आपके भूमि के मालिकाना हक़ का सबूत भी होती हैं।

हालाँकि, इनको लेने में कई लोगो को काफी मुश्किलों से जूझना पड़ता है, क्यूंकि इसके लिए आपको ब्लॉक या फिर कचहरी के चक्कर काटने पड़ते है। मगर अब इस समस्या का समाधान आ चुका है। कई राज्यों में खसरा खतौनी देखने और डाउनलोड करने की प्रक्रिया को ऑनलाइन कर दिया गया है। जिसकी मदद से कोई भी व्यक्ति घर बैठे सिर्फ अपने मोबाइल के माध्यम से भूलेख (जमीन के कागज़ात) की जानकारी निकाल सकता है।

इस पोस्ट में हम यूपी भूलेख खतौनी 2023 कैसे डाउनलोड करें इसके बारे में बताने जा रहे हैं।

UP Bhulekh Khatauni Portal Overview

पोर्टल का नाम यूपी भूलेख/भूलेख पोर्टल
उपलब्ध सेवाएं ऑनलाइन खसरा, खतौनी, भू-अभिलेख आदि
राज्य उत्तर प्रदेश
सेवा का माध्यम ऑनलाइन
लाभार्थी उत्तर प्रदेश के निवासी
शुल्क कोई शुल्क नहीं
आधिकारिक वेबसाइट upbhulekh.gov.in

यूपी भूलेख खतौनी 2023 डाउनलोड

उत्तर प्रदेश सरकार ने अपने राज्य के नागरिकों के लिए भूलेख खसरा खतौनी (Bhulekh UP) देखने हेतु एक ऑनलाइन पोर्टल लांच किया है। इस ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से जिन लोगों के उत्तर प्रदेश में जमीन है वो अपनी जमीन की खसरा खतौनी नक़ल निकाल सकते हैं। यह सुविधा पूरी तरीके से ऑनलाइन है और इसे आप अपने घर से ही देख सकते है, जिससे आपके समय की काफी बचत होगी।

अगर बात करें तो भूलेख वह कागज़ात होता है जिसमे भूमि के मालिक का नाम दर्ज होता है, जिससे यह पता लगता है की जमीन का असल मालिक कौन है।

इसी तरह खसरा भी एक जमीन से जुड़ा क़ानूनी दस्तावेज होता है, जिसमे एक यूनिक नंबर होता है, जो सिर्फ जमीन के मालिक को आवंटित किया जाता है। यह बिलकुल आधार कार्ड की तरह होता है जो कि जमीन के पहचान पत्र के रूप में काम करता है।

खतौनी एक प्रकार का क़ानूनी दस्तावेज है जो खेती के लिए जमीन और उसके मालिक के बारे में जानकारी प्रदान करता है। यह सिर्फ भारत के ग्रामीण क्षेत्रों की जमीन के लिए लागू है।

अब उत्तर प्रदेश में रहने वाले नागरिकों को किसी भी पटवारी कार्यालय और कचहरी जाने की कोई ज़रूरत नहीं है। भूलेख से जुड़े सभी काम अब आप अपने मोबाइल और लैपटॉप की मदद से चेक कर सकते हैं।

RELATED:

यूपी भूलेख पोर्टल का उद्देश्य

यूपी भूलेख पोर्टल को शुरू करने का उद्देश्य जमीन से जुड़ी सभी जानकारियों को नागरिको तक आसानी से पहुचाना और सिस्टम में पारदर्शिता लाना है। इस पोर्टल के आ जाने से नागरिको की समय की काफी बचत होती है, क्यूंकि जमीन से जुड़े काफी काम अब ऑनलाइन हो जाते हैं।

अब लोगो को तहसील कार्यालय के चक्कर नहीं काटने पड़ते, न ही किसी अधिकारी को काम करवाने के लिए पैसे देने पड़ते है। सभी काम UP Bhulekh पोर्टल के माध्यम से आसानी से हो जाते हैं, और लोग कई प्रकार की धोखाधड़ी से बच जाते हैं।

RELATED: Bhu Naksha UP 2023: भू नक्शा उत्तर प्रदेश ऑनलाइन कैसे देखें, डाउनलोड कैसे करें

उत्तर प्रदेश भूलेख खसरा खतौनी ऑनलाइन होने से लाभ

उत्तर प्रदेश भूलेख खसरा खतौनी नकल ऑनलाइन होने के फायदे भी कई सारे हैं। जो निम्नलिखित है:

  • उत्तर प्रदेश में रहने वाले सभी नागरिक भूलेख यूपी पोर्टल पर जाकर खसरा और खतौनी की जानकारी ले सकते हैं।
  • भूलेख रिकॉर्ड को आसानी से डाउनलोड कर सकते है।
  • ऑनलाइन खतौनी से सबसे ज़्यादा फायदा राज्य के किसानों को होता है, क्यूंकि वो इन कागज़ात के ज़रिये आसानी से लोन सकते हैं।
  • पटवारी कार्यालय के चक्कर नहीं काटने पड़ते, सभी काम ऑनलाइन माध्यम से हो जाता है।
  • भूलेख यूपी ऑनलाइन पोर्टल के आ जाने से जमीन के काम-काज वाले कार्यालयों में पारदर्शिता बढ़ी है और भ्रष्टाचार में भी काफी कमी आयी है।

Bhulekh UP: भूलेख उत्तर प्रदेश खसरा खतौनी की नकल ऑनलाइन कैसे देखें?

अगर आपके पास खसरा संख्या या गाटा संख्या उपलब्ध है तो आप खुद से ही ऑनलाइन खतौनी डाउनलोड कर सकते हैं। ऑनलाइन उत्तर प्रदेश खतौनी की नकल निकालने के लिए नीचे दी गई प्रक्रिया को फॉलो करें।

  • भूलेख खतौनी ऑनलाइन चेक करने के लिए सबसे पहले https://upbhulekh.gov.in/ के आधिकारिक पोर्टल पर जाएँ।
  • आपके सामने Bhulekh UP का होमपेज खुलेगा। आपके सामने कई विकल्प दिखेंगे, आपको खतौनी (अधिकार अभिलेख) की नकल देखें के विकल्प पर क्लिक करना है।

bhulekh up khatauni download

  • उसके बाद आपके सामने कैप्चा कोड दर्ज करने के लिए एक बॉक्स खुलेगा, उसे भरे और Continue के बटन पर क्लिक करें।

bhulekh Uttar Pradesh

इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा, जहाँ पर आपको अपना जनपद, तहसील, और ग्राम का नाम चुनना है।

bhulekh uttar pradesh check kaise kare

  • जैसे ही आप अपने ग्राम के नाम का चुनाव करेंगे, आपके सामने एक नया पेज खुलेगा। इस नए पेज पर आप अपना खसरा संख्या या गाटा संख्या दर्ज करें और खोजे के बटन पर क्लिक करें।

bhulekh up khasra khatauni

  • उसके बाद आपके सामने उदाहरण देखें का विकल्प दिखेगा, उसपर क्लिक करें।

up bhulekh khatauni kaise nikale

  • आखिर में आपके सामने भूलेख से जुड़ी सभी जानकारी आ जाएगी।

UP bhulekh khatauni nakal

UP Bhulekh मोबाइल एप डाउनलोड प्रक्रिया

उत्तर प्रदेश सरकार ने भूलेख यूपी वेबसाइट के अलावा उसी से जुड़ा एक एंड्राइड एप्लीकेशन भी लांच किया है, जिसका उपयोग कर नागरिक अपनी भूमि रजिस्ट्री (भूलेख) की जांच कर सकते हैं।

इस एंड्राइड ऐप का नाम “UP Bhulekh :भूलेख उत्तर प्रदेश” है, जिसे आप Google Play Store पर जाकर आसानी से अपने मोबाइल पर डाउनलोड कर सकते हैं।

bhulekh up app download

  • अपने एंड्राइड मोबाइल पर गूगल प्ले स्टोर ओपन करें
  • इसके बाद सर्च बॉक्स में “UP Bhulekh” टाइप करें और search के विकल्प पर क्लिक करें।
  • आपके सामने कई सारे ऐप्स दिखाए देंगे, आपको “UP Bhulekh :भूलेख उत्तर प्रदेश” app को इनस्टॉल करना है। (इस ऐप को MG Apps Solution द्वारा बनाया गया है)
  • एक बार इंस्टॉल होने के बाद आप इस ऐप पर खसरा, खतौनी और गाटा नंबर को दर्ज करके अपनी भूमि रजिस्ट्री की जानकारी हासिल कर सकते हैं।